Sunday, February 25, 2024
Latest:
करनालचंडीगढ़जिंददेश-विदेशपंचकुलापंजाबपानीपतहरियाणा

वायदा करके जा रहा हूँ सरकार बनते ही बड़े-बुजुर्गों की पेंशन 5400 करेंगे :- ओम प्रकाश चौटाला*

राणा ओबराय
राष्ट्रीय ख़ोज/भारतीय न्यूज,
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
वायदा करके जा रहा हूँ सरकार बनते ही बड़े-बुजुर्गों की पेंशन 5400 करेंगे :- ओम प्रकाश चौटाला*
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
बरोदा ;- इनेलो ने शनिवार को अपने प्रत्याशी के अंतिम दौर के प्रचार के लिए बरोदा गांव में विशाल जलसे का आयोजन किया। इस जलसे में भीम आर्मी एवं आजाद समाज पार्टी (कांशीराम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रशेखर आजाद ने भी शिरकत की। जलसे में उमड़ी भीड़ को देखकर पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला गद-गद नजर आए। उन्होंने महऋषि वाल्मीकि जयंती पर उनको नमन कर बरोदा हलके के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि शनिवार 1 नवंबर को हरियाणा दिवस है। आज संयोग की बात है कि हरियाणा को बने 54 साल हो गए हैं और बरोदा हलके के 54 गांव के प्रतिनिधि यहां मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि इनेलो की सरकार तो आपने बनानी है लेकिन आज एक वायदा करके जा रहे हैं कि सरकार बनते ही बड़े-बुजुर्गों की पेंशन 5400 रुपए महीना करेंगे। इनेलो सुप्रीमो ने कहा कि हमारा देश कृषि प्रधान देश है और इस देश की अर्थव्यवस्था खेती पर टिकी है। अगर किसान खुशहाल है तो देश मालामाल है और अगर देश का किसान कंगाल है तो देश का बुरा हाल है। आज देश और प्रदेश का किसान खून के आंसू रोने पर मजबूर है लेकिन प्रदेश की भाजपा सरकार गुंगी-बहरी बनी हुई है। हम सत्ता के भूखे लोग नहीं हैं और ना ही हमारा कोई व्यक्तिगत स्वार्थ है, हम तो स्वर्गीय देवी लाल के लगाए हुए पौधे की खून से सिंचाई करते हैं ताकि वो पौधा अच्छे फल दे और लोगों को ज्यादा से ज्यादा लाभ हो। चौधरी देवी लाल की एक सोच थी कि इस देश में आम लोगों की मूलभूत जरूरतें जैसे रोजी, रोटी, कपड़ा, मकान, स्वास्थ और शिक्षा का प्रबंध सरकारी तौर पर किया जाए। इसके लिए उन्होंने आजीवन संघर्ष किया और आखिरी सांस तक लड़ाई लड़ते रहे। हमारी भी यही सोच है कि उनके सपनों को साकार करें।
इनेलो सुप्रीमो ने कहा कि हारने के बाद भी आपका प्रत्याशी आप के सुख-दुख में आप के साथ खड़ा रहा है इसलिए पार्टी प्रत्याशी को भारी मतों से जिता कर विधानसभा भेजें। प्रदेश की मौजूदा गठबंधन सरकार से चाहे वो किसान है, मजदूर है, छोटा दुकानदार है, व्यापारी है या फिर कर्मचारी है आज हर वर्ग परेशान है। उन्होंने कहा कि बरोदा का उपचुनाव एक मौका है जब आप प्रदेश की गुंगी-बहरी गठबंधन सरकार से पीछा छुड़वा सकते हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!