Tuesday, May 14, 2024
Latest:
चंडीगढ़जॉब करियरदेश-विदेशपंचकुलामनोरंजनस्वास्थ्यहरियाणा

30 वर्ष की उम्र के बाद कम करें इन आहारों का सेवन, हो सकती हैं कई गम्भीर स्वास्थ्य समस्याएं*

राणा ओबराय
राष्ट्रीय खों/भारतीय न्यूज
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
30 वर्ष की उम्र के बाद कम करें इन आहारों का सेवन, हो सकती हैं कई गम्भीर स्वास्थ्य समस्याएं*
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
आपका खान-पान ही आपको सेहतमंद या बीमार बनाता है। 30 की उम्र के बाद आपके शरीर में कई तरह के परिवर्तन आने शुरू हो जाते हैं। इसलिए इस उम्र में आपको अपने खाने-पीने पर विशेष ध्यान देना चाहिए। अगर आप सही आहार खाते हैं और कुछ परहेज करते हैं, तो आपके हृदय, किडनी, लिवर, मस्तिष्क, हड्डियां और मांसपेशियां आदि अंग लंबे समय तक स्वस्थ रहेंगे। आजकल कम उम्र में ही बहुत सारे युवा मोटापा, हार्ट अटैक, डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, कैंसर आदि का शिकार हो रहे हैं। इनमें से ज्यादातर बीमारियों का कारण आपका गलत खान-पान या खराब जीवनशैली है। आइए आपको बताते हैं 30 की उम्र के बाद कौन से आहार हैं आपके लिए नुकसानदायक। चीनी और मीठी चीजें। 30 की उम्र के बाद आपको चीनी का सेवन बहुत कम कर देना चाहिए। मिठाइयां, चॉकलेट्स, कोल्ड ड्रिंक्स, डोनट्स, चाय आदि में चीनी की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। मीठी चीजें आपके शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ा देती हैं। इससे लंबे समय में आपको डायबिटीज और कैंसर का खतरा हो सकता है। इसके अलावा इससे मोटापा और हड्डियां कमजोर होने का भी खतरा होता है। चाय-कॉफी कम कर दें। अक्सर इस उम्र के आते-आते लोगों को चाय-कॉफी की लत लग जाती है। चाय और कॉफी में कैफीन होता है। लंबे समय तक पीने से आपको इसकी लत लग जाती है और आपकी सेहत पर बुरा असर पड़ता है। दूध वाली चाय आपके लिए सेहतमंद नहीं होती है। इसकी जगह आप चाहें तो ग्रीन टी या लेमन टी पिएं। ध्यान दें दिन में 2 से ज्यादा चाय न पिएं। ज्यादा चाय पीने से आपको हाई ब्लड प्रेशर, माइग्रेन, सिर दर्द, अपच, कब्ज आदि हो सकते हैं। बाहर का खाना कम करें। बाहर का खाना हमें घर के खाने से ज्यादा टेस्टी लगता है। मगर सच्चाई ये है कि बाहर मिलने वाले फास्ट फूड्स, जंक फूड्स और रेस्टोरेंट्स में मिलने वाले फूड्स में तेल-मसालों और केमिकलयुक्त फ्लेवर्स का इस्तेमाल किया जाता है। 30 की उम्र के बाद आपको बाहर की चीजें खाने की आदत बेहद कम कर देनी चाहिए। आप घर पर साफ-सफाई के साथ बनाया हुआ आहार ही खाएं। बाहर के खाने में वसा की मात्रा ज्यादा होती है, जिससे आपको कैंसर और हाई कोलेस्ट्रॉल का खतरा बढ़ जाता है। आटे और मैदे से बनी चीजें। 30 की उम्र के बाद आपको मैदे से बने फूड्स का सेवन कम कर देना चाहिए। आज बाजार में मिलने वाले ज्यादातर रेडीमेड फूड्स में मैदे का इस्तेमाल होता है, इसलिए इससे बचना थोड़ा मुश्किल है। इसके साथ ही आपको गेंहू के आटे का भी कम सेवन करना चाहिए। भारत के ज्यादातर हिस्सों में गेंहूं मुख्य आहार है। घर में रोटी बनाने के लिए आप सिर्फ गेंहूं के आटे के बजाय मिक्स आटे का प्रयोग करें, जिसमें दूसरे मोटे अनाज जैसे- मक्का, रागी, बाजरा, चना, ईसबगोल आदि मिक्स हों। मिक्स आटा खाने से आपको डायबिटीज और मोटापे का खतरा कम होता है। इसके साथ ही ये आपके दिल, लिवर और पाचनतंत्र के लिए बहुत फायेदमंद है। शराब का सेवन बिल्कुल बंद करें
30 के बाद की उम्र परिवार और करियर के लिहाज से महत्वपूर्ण होती है। इस उम्र में तनाव और चिंता को भुलाने के लिए बहुत से लोग शराब के आदी हो जाते हैं। मगर आपको बता दें कि 30 की उम्र के बाद आपके लिवर और किडनी की क्षमताएं धीरे-धीरे घटना शुरू हो जाती हैं। इसलिए आपको शराब का सेवन बिल्कुल बंद कर देना चाहिए। शराब न सिर्फ आपका लिवर और किडनी खराब करती है, बल्कि मोटापा, डायबिटीज और ढेर सारे दूसरे गंभीर रोग भी देती है। मांसाहारी आहार कम करें
अगर आप नॉनवेजिटेरियन यानी मांसाहारी हैं, तो आपको 30 की उम्र के बाद मांस खाना थोड़ा कम कर देना चाहिए। मांस एक हैवी फूड है, जिसे पचाना आसान नहीं होता है। इसके अलावा रेड मीट और प्रोसेस्ड मीट का ज्यादा सेवन करने से कई तरह के रोगों का खतरा भी बढ़ जाता है। इस उम्र में आपको ज्यादा से ज्यादा प्राकृतिक आहार जैसे- फल, सब्जियां, दाल, मोटे अनाज, नट्स आदि का सेवन करना चाहिए।
ध्यान दें कि दूध को सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है मगर 30 की उम्र के बाद आपको पैकेटबंद दूध और दूध से बने दूसरे आहार जैसे- पनीर, योगर्ट, चीज़ आदि का सेवन भी कम कर देना चाहिए। कैल्शियम की आपूर्ति के लिए आप ज्यादा से ज्यादा फल और सब्जियां खाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!