Wednesday, July 24, 2024
Latest:
अपराधचंडीगढ़देश-विदेशराज्यरोहतकशिक्षाहरियाणा

मंत्री की सिफारिश पर पीजीआई के सस्पेंड डायरेक्टर नित्यानंद बहाल,

राणा ओबराय
राष्ट्रीय खोज/भारतीय न्यूज़,
,,,,,,,,,,,,,,,,,
मंत्री की सिफारिश पर पीजीआई के सस्पेंड डायरेक्टर नित्यानंद बहाल,
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
रोहतक ;- पीजीआई के सस्पेंड डायरेक्टर नित्यानंद को 16 दिन बाद वापस बहाल कर दिया है.उनके सेवानिवृति 31अक्टूबर को होनी है, अभी उनको मेडिसन विभाग के अध्यक्ष के तौर पर बहाल किया है।
डॉ. नित्यानंद को बहाल करवाने के लिए सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को पत्र लिखा था. जिसके बाद उनको बहाल किया गया है।
इस मामले में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि रोहतक पीजीआई के डायरेक्टर डॉ. नित्यानंद को फार्मेसी कंपनियों से फायदा पाने के कारण 9 अक्टूबर को सस्पेंड किया गया था. अब रोहतक से विधायक और सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने पत्र लिखा है, जिसके बाद नित्यानंद को बहाल किया गया है. मामले की जांच जारी रहेगी।
वहीं सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने बताया कि विधायक होने के नाते मेरा फर्ज बनता है कि मैं किसी की मदद करुं, डॉक्टर नित्यानंद मेरे पास आए थे, जिसके बाद मैंने स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखा था. वहीं इस मामले में जांच चल रही है और कानून अपना काम करेगा। डॉ. नित्यानंद ने अपने सस्पेंशन को लेकर हाईकोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया था वहीं स्वास्थ्य मंत्री से भी कई बार मुलाकात की थी जिसके बाद अब उन्होने हाईकोर्ट से केस वापस लेने की बात कही है।बता दें कि रोहतक पीजीआई के डायरेक्टर डॉ. नित्यानंद पर निजी फार्मेसी कंपनियों का फायदा पहुंचाने का आरोप लगा था, नित्यानंद पर फार्मेसी कंपनियों के खर्चे पर विदेशों में घूमने के टूर भी शामिल हैं. जिसके बाद 9 अक्टूबर को स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सस्पेंड किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!