Wednesday, December 20, 2023
Latest:
अपराधकरनालकारोबारकुरुक्षेत्रकैथलचंडीगढ़जिंददेश-विदेशपंचकुलापंजाबपानीपतहरियाणा

पंजाबी गायक गुरुदास मान का किसान आंदोलन स्टेज पर बोलने का हुआ विरोध, विनम्रतापूर्वक नीचे बैठे*

राणा ओबराय
राष्ट्रीय ख़ोज/भारतीय न्यूज,
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
पंजाबी गायक गुरुदास मान का किसान आंदोलन स्टेज पर बोलने का हुआ विरोध, विनम्रतापूर्वक नीचे बैठे*
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
पानीपत/चंडीगढ ;- तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के आंदोलन को मनोरंजन, खेल, व्यापार, धार्मिक जगत समेत हर तरफ से समर्थन मिल रहा है। इसी कड़ी में आज पंजाब के मशहूर गायक गुरदास मान सिंघु बार्डर पहुंचे। इस दाैरान उन्हें विरोध और स्वागत दोनों का सामना करना पड़ा। विरोधियों के कारण जब गुरदास मान को स्टेज पर बोलने नहीं दिया गया तब गुरदास मान ने एक बार विनम्रता का परिचय दिया। गुरदास मान ने हाथ जोड़कर चुपचाप माफी मांगी और शांति से स्टेज से नीचे बैठ गए। मीडिया के साथ बातचीत में भावुक हुए गुरदास मान ने कहा कि जब उनके द्वारा पंजाबी भाषा संबंधी शोर मचा तो कुछ लोगों ने गद्दार जैसे शब्द प्रयोग किए। पंजाबी जुबाने जसे गाने गाने वालों को इन्होंने गद्दार बना दिया।
इसी बीच सोमवार को कई पूर्व और मौजूदा खिलाड़ी कृषि कानूनों के विरोध में अपना अवॉर्ड वापस करने नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन की ओर मार्च करने निकले। हालांकि, इन सभी को दिल्ली पुलिस ने रास्ते में ही रोक लिया। कुछ दिन पहले ही गायक गुरदास मान ने किसान आंदोलन में डटे नौजवानों, बुजुर्गों और माताओं का धन्यवाद करते हुए कहा था कि चाहे मुझे गालियां निकाल लो लेकिन मेरे से पंजाबी होने का हक न छीना जाए। कृषि कानूनों पर मान ने हाथ जोड़कर सरकार से अपील करते हुए कहा कि सरकार सड़कों पर संघर्ष कर रहे किसानों की बात जल्द सुने। अगर किसान है तो हिंदुस्तान है और अगर जवान है तो भारत महान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!