Sunday, May 19, 2024
Latest:
करनालचंडीगढ़चरखी दादरीजिंददेश-विदेशपंचकुलापंजाबपानीपतभिवानीमहेंद्रगढ़हरियाणा

45 वर्ष बाद शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा के प्रयास से नहर में आया पानी, झूम उठे 10 गांव के लोग*

राणा ओबराय
राष्ट्रीय खोज/भारतीय न्यूज,
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
45 वर्ष बाद शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा के प्रयास से नहर में आया पानी, झूम उठे 10 गांव के लोग*
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
महेंद्रगढ़ :- जिले के 10 गांवों में नहर बनने के 45 साल जब पहली बार पानी आया तो ग्रामीणों ने खुशी में भंडारा लगाया। भंडारे में प्रदेश के शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा भी शामिल हुए। बता दें बसई डिस्ट्रीब्यूटरी का निर्माण चौधरी बंसीलाल की सरकार के समय हुआ था। लेकिन नहर का लेवल ठीक नहीं होने के कारण टेल के 10 गांवों में आज तक पानी नहीं पहुंच पा रहा था। प्रदेश की खट्टर सरकार ने पिछले साल नहर का लेवल ठीक कराने के लिए 5.32 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट मंजूर किया था। काम पूरा होने के बाद मंगलवार को पानी पहुंचा। आपको बता दें कि वर्ष 2018 में आकोदा , बसई के ग्रामीण धरने पर बैठे थे। 27 दिन तक धरने के अलावा दो बार आमरण अनशन भी किया। 27 अप्रैल 2018 को शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा धरने पर पहुंचे थे। उन्होंने आश्वासन दिया था कि अगले साल आपके साथ इसी नहर में पानी आने पर प्रसाद ग्रहण करेंगे। नहर विभाग की ओर से इसके लिए प्रोजेक्ट बनवाया गया। जिसमें 5 करोड़ 32 लाख रुपये की लागत से बनी इस 16 किलोमीटर लंबी नहर का लेवल ठीक कराया गया।
इन गांवों को फायदा
सिहौर पंप हाउस से चलने वाली इस नहर से सेहलंग, बसई, आकोदा, खुड़ाना, गढ़ी, बास, झाड़ली, छितरोली, स्याणा, पोता के ग्रामीणों को फायदा होगा। करीब 40 हजार की आबादी को इससे लाभ मिलेगा। किसानों को खेती के लिए पानी मिलने के अलावा पीने के लिए भी नहरी पानी मिल सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!