Wednesday, December 20, 2023
Latest:
अपराधअम्बालाकरनालकारोबारकुरुक्षेत्रकैथलगुड़गाँवचंडीगढ़देश-विदेशनारनौलपंचकुलापलवलपानीपतफरीदाबादहरियाणा

सरकार ने कुरुक्षेत्र जिले के उपमंडल अधिकारी को क्यों किया सस्पेंड, जानिए क्या है मामला*?

राणा ओबराय
राष्ट्रीय ख़ोज/भारतीय न्यूज,
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
सरकार ने कुरुक्षेत्र जिले के उपमंडल अधिकारी को क्यों किया सस्पेंड, जानिए क्या है मामला*?
,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
कुरुक्षेत्र ;- हरियाणा के कुरूक्षेत्र जिले में SDM को सस्पेंड किया गया है। दरअसल एसडीएम पर आरोप है कि वह ओवरलोडिग गाड़ियां के बचाव में संलिप्त है। ओवरलोडिग गाड़ियां चलाने वाले वाहन मालिकों को लालच देकर सड़क पर चेकिग की जानकारी देने के मामले में फंसे लाडवा के तत्कालीन एसडीएम अनिल यादव के रीडर व चपड़ासी के साथ अब एसडीएम भी घेरे में हैं। इसी मामले में पहले एसडीएम का तबादला लाडवा से किया गया था, मगर अब उन्हें इसी मामले में निलंबित कर दिया गया है। इस मामले में पुलिस ने चार आरोपितों को गिरफ्तार किया हुआ है, जबकि एक आरोपित ने उच्च न्यायालय में जमानत याचिका लगाई हुई है। मामले की जांच डीएसपी रविद्र तोमर कर रहे हैं। सीएम फ्लाइंग के स्क्वायड के एसआई दिनेश कुमार ने दो नवंबर को सदर थाना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत में ओवरलोडिग गाड़ियों को चलाने वाले वाहन मालिक व दलालों को कुछ युवा सड़क पर चेकिग कर रहे आरटीए, एसडीएम व सेल्स टैक्स के वाहनों की सही लोकेशन के बारे में जानकारी देते थे। जिससे ओवर लोड वाहन आसानी से निकल जाते थे। यह काम वाट्सएप के जरिए प्रत्येक जिले में एडमिन की ओर से किया जा रहा है। गाड़ी मालिकों से अधिकारियों की रैकी व अधिकारियों से सैटिंग करने की ऐवज में सुविधा शुल्क ले रहे थे। यह ग्रुप एडमिन सुविधा लेने वालों से एक हजार से दो हजार रुपये प्रति माह अपने बैंक खाते में डलवाते थे। सूचना देने वाले ने बताया कि अमरजीत नाम का युवक जिले में इस तरह का नेटवर्क चला रहा था। वह वेतन पर रखे लड़कों के माध्यम से चेकिग अधिकारियों की रैकी कराता था। यह भी कहता था कि कई अधिकारियों या उनके स्टाफ से उसकी सैटिंग है। अगर किसी की गाड़ी पकड़ी जाए तो वह उस गाड़ी को बिना जुर्माने के छुड़वाने में सक्षम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!